• गैंगस्टर का पुलिस अफसरों के थे 'कनेक्शन', 'खास' लोगों पर क्राइम ब्रांच की नजर !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    गैंगस्टर का पुलिस अफसरों के थे 'कनेक्शन', 'खास' लोगों पर क्राइम ब्रांच की नजर ! 

     अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन का करीबी और डी कंपनी का गुर्गा एजाज लकड़ावाला वाला पुलिस ने किया गिरफ्तार !

     एजाज की गिरफ्तारी के बाद पुलिस में उसके 'खास' रहे कई पुलिस अफसर की मुश्किलें बढ़ी ! 

     पुलिस के मुताबिक एजाज के खिलाफ दर्जनों से अधिक गंभीर अपराधिक मामले दर्ज हैं ! 

    मुंबई-मुंबई अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन का करीबी और डी कंपनी का गुर्गा रहा एजाज लकड़ावाला वाला अब पुलिस गिरफ्त में है। पिछले दिनों एजाज की गिरफ्तारी के बाद अब पुलिस मुंबई में उसके 'खास' लोगों को नजर रख बनाए हुए हैं। इसमें एक दर्जन से अधिक प्रॉपर्टी डीलर/बिल्डरों के अलावा दो पुलिस मुखबिर और कुछ पुलिस अधिकारी भी शामिल हैं। 
    बताया जा रहा है कि लकड़ावाला के साथ इनके 'कनेक्शन' रहे हैं और पुलिस इसकी जांच में जुटी है। पुलिस ने कहा कि वे जल्द ही लकड़वाला को कठोर अपराध नियंत्रण अधिनियम (मकोका) के तहत गिरफ्तार करेंगे। पुलिस के मुताबिक उसे खिलाफ दो से अधिक गंभीर अपराधिक मामले दर्ज हैं और आरोप-पत्र दायर किए जा चुके हैं। लकड़ावाला दाऊद के साथ था लेकिन छोटा राजन के अलग होने पर वह उसके साथ चला गया। वर्ष 2008 में लकड़ावाला छोटा राजन से अलग हो गया और अपना स्‍वतंत्र गैंग बना लिया। हालांकि, कथित रूप से अलग गैंग बनाने के बाद भी वह छोटा राजन के संपर्क में बना रहा। सूत्रों के मुताबिक क्राइम ब्रांच 25 जबरन वसूली के मामले और दो हत्याओं के मामले की जांच भी कर रही है। एक पुलिस अधिकारी ने कहा, लकड़ावाला विदेश में बैठे अपने जबरन वसूली रैकिट को यहां नहीं चला सकता था। निश्चित रूप से यहां से उसे मदद मिली है। पुलिस के मुताबिक टीम संदिग्धों को बुलाएगी और सांठगांठ जानने के लिए उनके बयान दर्ज करेगी।पटना से बुधवार को गिरफ्तार लकड़ावाला ने पूछताछ में स्वीकार किया कि उसके पास दो पासपोर्ट हैं। एक नेपाल में बना है जो मुबारक शेख के नाम से है और दूसरा कनाडाई पासपोर्ट है, जो अक्षय भाटिया के नाम पर है। उन्होंने पुलिस को बताया कि रोमा थडानी के अलावा, उन्होंने नागरिकता पाने के लिए एक कनाडाई सुमन सुरेखा भाटिया से शादी की थी। एजाज ने यह बताया नेपाल में शरण क्यों? लकड़ावाला ने पुलिस को बताया कि 2004 में छोटा शकील ने बैंकॉक में उस पर हमला किया। इसके बाद वह मलेशिया, कनाडा, कंबोडिया और फिर नेपाल चला गया। नेपाल से उसके लिए अपनी बेटी शिफा उर्फ सोनिया शेख से मिलने के लिए भारत में प्रवेश करना आसान था, जिन्होंने वर्सोवा निवासी से शादी की थी। बांद्रा के एक डेवलपर से पैसे मांगने के आरोप में शिफा को गिरफ्तार किया गया था और जांच के दौरान यह पता चला कि वह बिहार में किसी के साथ बातचीत कर रही थी। इससे पुलिस को लकड़ावाला की लोकेशन की जानकारी मिल गई।पुलिस लकड़ावाला से पूछताछ कर रही है कि वह भारत में कैसे घुस गया और किस ने उसकी मदद की। एक वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी ने कहा, यह अपराध शाखा द्वारा एक उत्कृष्ट जांच थी। अपराध शाखा के अधिकारियों ने कहा कि वे लकड़वाला के पासपोर्ट की सत्यता की पुष्टि कर रहे हैं, क्योंकि उनके पास कोई दस्तावेज नहीं थे, जब उन्होंने उसे पटना से गिरफ्तार किया था। बिहार में पुलिस से मिलने के लिए पहले उसकी बेटी शिफा से पुलिस मिली। इसके बाद उसके जरिए बिहार पुलिस की मदद से क्राइम ब्रांच ने जाल बिछाया और लकड़ावाला को गिरफ्तार कर लिया।
  • No Comment to " गैंगस्टर का पुलिस अफसरों के थे 'कनेक्शन', 'खास' लोगों पर क्राइम ब्रांच की नजर ! "