• मेरे भाई ने आत्महत्या नही किया,उनकी हत्या हुई है-मनोज वलेच्छा

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    मेरे भाई ने आत्महत्या नही किया,उनकी हत्या हुई है-मनोज वलेच्छा

     25 जनवरी कोअम्बरनाथ व बदलापुर रेलवे ट्रैक पर मिली थी लाश !

     85 लाख लेने वाले जानी पमनानी की ब्लैकमेलिंग से परेशान होकर उठाया यह कदम-हरेश कृष्णनानी

     आत्महत्या के लिए प्रवित्त करने वाले पर कब होगी पुलिस कार्यवाई ?

    गिरफ्तार से बचने के जानी पमनानी अग्रिम जमानत लेने की जुआड़ में जुटा सूत्र ?

     क्या है मृतक के भाई व हरेश कृष्णनानी का आरोप सुनिये उन्ही की जुबानी,,,,,,,

     उल्हासनगर-उल्हासनगर में सनसनीखेज मामला सामने आया है पहले दोस्ती का हवाला देकर लेता है 85 लाख रुपये फिर नियत हुई खराब और पैसे नही लौटना पड़े इसके लिए इतना किया ब्लैकमेल की सामने वाले ने परेशान होकर आत्महत्या कर लिया है, इसे आत्महत्या के लिए जिम्मेदार ब्यक्ति पर अभी तक कोई भी कानूनी कार्यवाई नही हुई है,
    गौरतलब हो मृतक राजा वलेच्छा व उनकी पूरा परिवार उल्हासनगर पांच नम्बर के भाटिया चौक के महिमा अपार्टमेंट में रहते है, मृतक राजा का कुछ समय पहले जानी पमनानी से दोस्ती होती और फिर जानी बिजनेस के लिए राजा से 85 लाख रुपये लेता जिसका बैंक डिटेल भी है, फिर अचानक जानी पमनानी की नियत खराब हो जाती और वह राजा वलेच्छा को इतना पैसा तुम्हारे पास कहा से इसका इनकम प्रूफ है क्या मैं तुम्हारी इनकटैक्स विभाग में शिकायत करूंगा ऐसा ब्लैकमेल करने लगा फिर एक नोटिस भी भेजता है इससे तंग आकर राजा वलेच्छा इतना परेशान हुआ की 25 जनवरी को उसने अम्बरनाथ व बदलापुर के रेलवे ट्रैक पर जाकर ट्रेन के नीचे जाकर अपनी जान दे दी इस सदमे में पूरा वलेच्छा परिवार है कि आखिरकार उनके बेटे ने ऐसा कदम क्यों उठाया जब उनको इस मामले की सच्चाई सामने आई तो मृतक राजा वलेच्छा के बड़े भाई मनोज वलेच्छा ने अपने भाई आत्महत्या पर कहा कि मेरे भाई की हत्या हुई है और उसके पीछे जो जिम्मेदार ब्यक्ति है उसे सजा दिलाकर रहूंगा ! वही इस बारे हरेश कृष्णनानी ने सीधा इस मौत का जिम्मेदार जानी पमनानी को बताया है किसने क्या कहा सुनिये उनकी जुबानी,,,,,,,वही इस मामले में जानी पमनानी से संपर्क साधने की कोशिश किया गया तो उनका नम्बर बंद था जिससे उनका पक्ष सामने नही आ पाया है !
  • No Comment to " मेरे भाई ने आत्महत्या नही किया,उनकी हत्या हुई है-मनोज वलेच्छा "