• खंडनी मामले फरार आरोपी माखीजा के फरारी में तथाकथित समाजसेवक व शराब तस्कर नरेश रोहरा व दो अन्य ब्लैकमेलर कर रहे थे उसे फाइनेंससली मदद !

    Reporter: first headlines india
    Published:
    A- A+
    खंडनी मामले फरार आरोपी माखीजा के फरारी में तथाकथित समाजसेवक व शराब तस्कर नरेश रोहरा व दो अन्य ब्लैकमेलर कर रहे थे उसे फाइनेंससली मदद ! 

     तथाकथित समाजसेवक व शराब तस्कर नरेश रोहरा के ऊपर दर्ज गुन्हेगारी की गोपनीय सूची मंगवाई ठाणे खंडनी पथक ने !

     क्या फरार आरोपी की मदत करने वालो को"ऑर्गनाइज क्राइम" तहत ठाणे खंडनी विभाग बनाएगी आरोपी ?

     उल्हासनगर-उल्हासनगर में हप्ताखोरी के आरोप में कारी माखीजा 17 दिनों तक वांटेड था।वांटेडी में तथाकथित समाजसेवक व गैरकानूनी धंधा करने वाला स्वयंभू व्यापारी, शराब तस्कर, बलात्कारी, खंडनी खोर,गोल्ड तस्कर, नरेश रोहरा 4 दिन उसके साथ था यही नही रोहरा ने माखीजा को 80 हजार रूपये की फ़ायनेसली मदद भी किया है।सूत्रों के मुताबिक रोहरा के अलावा शहर के दो ब्लैकमेलर लगातार कारी के संपर्क में थे,अब सवाल यह उठता है कि "ऑर्गनाइज क्राइम" के तहत क्या ये तीनो को भी ठाणे खंडनी विरोधी पथक आरोपी बनायेगी इस बात को लेकर शहर में चर्चाओं का बाजार पूरी तरह गरमाया हुआ है। 
    सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जब ठाणे खंडनी विरोधी पथक ने शेरू गंगवानी को रंगेहाथ पकड़ा वैसे ही इसकी भनक कारी माखीजा को लगी और वह फरार हो गया,पुलिस ने आईपीसी 385,384,387,120 (ब),34 के तहत मामला दर्ज किया था।आईपीसी नॉन बेलेबल होने की वजह से कारी माखीजा वांटेडी में अटक पूर्व जमानत लेने की कोशिश कर रहा था।जमानत करवाने के लिए वांटेडी में तथाकथित समाजसेवक नरेश रोहड़ा ने कारी को 80 हजार रुपये भी दिए थे।सूत्र बताते है कि जब 2013 में नरेश रोहड़ा बलात्कार के आरोप में गिरफ्तार हुआ था तब कारी ने उसे बीसी उठाकर पैसा देकर उसकी मदद की थी,यही एहसान उतारने के लिए रोहड़ा ने उसे 80 हजार रुपये दिए। बताया जाता है कि रोहड़ा के अलावा शहर के दो ब्लैकमेलर भी लगातार मोबाइल के वाट्सअप काल के जरिये लगातार कारी के संपर्क में थे।
  • No Comment to " खंडनी मामले फरार आरोपी माखीजा के फरारी में तथाकथित समाजसेवक व शराब तस्कर नरेश रोहरा व दो अन्य ब्लैकमेलर कर रहे थे उसे फाइनेंससली मदद ! "