• कोरोना महामारी का घर बैठे डॉक्टर से दूर कीजिए अपनी शंका !

    Reporter: first headlines india
    Published:
    A- A+
    कोरोना महामारी का घर बैठे डॉक्टर से दूर कीजिए अपनी शंका !

     मुंबई,ठाणे, नवी मुंबई, कल्याण उल्हासनगर समेत पूरे महाराष्ट्र में जारी हुई हेल्पलाइन नंबर ! 

     इस हेल्पलाइन नंबर में राज्य के 180 डॉक्टर जुड़े है ! 

     फिलहाल ज्यादातर कॉल सर्दी, जुकाम और बुखार से परेशान लोगों के आ रहे है !

     हमारा उद्देश्य बस लोगों को बीमारी के बारे में जागरूक करना -डॉ, गोकुल राख 

     मुंबई-मुंबई कोरोना वायरस से जुड़ी किसी भी तरह की शंका के लिए सरकार की ओर से कई हेल्पलाइन नंबर की शुरुआत की गई है, लेकिन कई बार कॉल्स ज्यादा आने की वजह से जवाब मिलने में समय लगता है। ऐसे में महाराष्ट्र के कुछ डॉक्टरों ने व्यक्तिगत स्तर पर कोरोना हेल्पलाइन की शुरुआत की है। जहां कभी भी फोन करके बीमारी से जुड़ी जानकारी पाई जा सकती है।हेल्पलाइन नंबर की शुरुआत करने वालों में ज्यादतर वे डॉक्टर हैं जो एमबीबीएस के बाद आगे की परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं। इस पहल से जुड़े डॉक्टर गोकुल राख ने बताया कि वह फिलहाल यूपीएससी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं। कोरोना वायरस का मामला सामने आने के बाद उन्होंने देखा कि सर्दी-जुकाम से परेशान लोग भी कोरोना को लेकर चिंतित होने लगे। इसलिए उन्हें ऐसे लोगों के लिए एक हेल्पलाइन नंबर के बारे में ख्याल आया। इसके बाद उन्होंने अपने दोस्तों से बात कर इसकी शुरुआत की। हेल्पलाइन सुबह 9 बजे से रात 9 बजे तक चालू रहती है।

    नीचे जानिए महाराष्ट्र के अलग-अलग इलाकों के हेल्पलाइन नंबर डॉक्टर हेल्पलाइन' के नाम से चलने वाले इस हेल्पलाइन नंबर में राज्य के 180 डॉक्टर जुड़ चुके हैं। चूंकि बीमारी को लेकर चिंता हर किसी को है इसलिए डॉक्टरों ने इसे जोन के अनुसार, इसके लिए काम करने वाले डॉक्टरों को कॉल्स की जिम्मेदारी सौंपी है। फिलहाल ये 180 डॉक्टर विदर्भ, खांडेश, मराठवाड़ा, पश्चिम महाराष्ट्र और कोंकण क्षेत्र में डॉक्टर हेल्पलाइन के जरिये लोगों को बीमारी से संबंधित जानकारी दे रहे हैं। डॉ गोकुल राख ने बताया कि इसे संचालित करने के लिए हमने किसी भी तरह का अतिरिक्त खर्च नहीं किया है। हमने अपने व्यक्तिगत नंबर सबको दिए हैं। साथ ही सोशल मीडिया के जरिये इसे लोगों तक पहुंचा रहे हैं। हम सभी 180 डॉक्टर कहीं भी कभी भी कॉल्स ले सकें, इसलिए हमने अपना व्यक्तिगत नंबर दिया है। फिलहाल ज्यादातर कॉल सर्दी, जुकाम और बुखार से परेशान लोगों के आते हैं। हम उन्हें लक्षण के अनुसार आगे की प्रक्रिया के बारे में बताते हैं और जरूरी महसूस होने पर हम उन्हें डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल जाने की भी सलाह देते हैं।डॉक्टर्स हेल्पलाइन की मुंबई की जिम्मेदारी संभालने वाली डॉ अवनी मिश्रा ने बताया कि हम अधिक से अधिक लोगों को बीमारी के बारे में जागरूक करना चाहते हैं। इसलिए हमने इस पहल की शुरुआत की है। कोरोना के खिलाफ लड़ाई में हम हर तरह से अपनी सेवा देने को तैयार हैं। बता दें कि अवनी एमबीबीएस के बाद आगे की पढ़ाई की तैयारी कर रही हैं। डॉ अवनी मिश्रा कहती हैं, 'इस मुश्किल समय में हम सबको मिलकर लोगों की मदद करनी चाहिए। हम अपने स्तर पर जो कर सकते थे उसे ध्यान में रखते हुए डॉक्टर्स हेल्पलाइन की शुरुआत की है।' डॉ गोकुल राख का कहना है कि हमारा उद्देश्य बस लोगों को बीमारी के बारे में जागरूक करना और उन्हें सही जानकारी देना है। हेल्पलाइन नंबर इसके लिए बेहतर विकल्प है।
  • No Comment to " कोरोना महामारी का घर बैठे डॉक्टर से दूर कीजिए अपनी शंका ! "