• लॉक डाउन में गरीबो के दो वक्त खाने का सहारा बने थायरा सिंह दरबार व अमृतवेला ट्रस्ट !

    Reporter: first headlines india
    Published:
    A- A+
    लॉक डाउन में गरीबो के दो वक्त खाने का सहारा बने थायरा सिंह दरबार व अमृतवेला ट्रस्ट !

     बेघर, विस्थापित और दुसरे राज्यो के रहिवासी फसे हुये कामगारों के लिये रहने व उनके भोजन की व्यवस्था उमपा द्वारा - मनपा आयुक्त 

     उमपा आयुक्त की अपील सहायता के लिए आगे आये शहरवासी !

     थायरा सिंह दरबार के सेवाधारियों के 10 से 12 हजार लोगों खिलाया जा रहा है दो टाइम खाना !

     देखिए थायरा सिंह दरबार के द्वारा बनाये जा रहे भोजन को कैसे किया जा रहा है तैयार,,,,,, 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर देश व राज्य में कोरोना वायरस के  लॉकडाउन कार्यकाल के दौरान गरीबों, बेघर, विस्थापित और दुसरे राज्यो के रहिवासी फसे हुये कामगारों के लिये निवास, अनाज और भोजन की व्यवस्था के लिये उपाय योजना मनपा द्वारा की गई है,आयुक्त सुधाकर देशमुख ने थायरा सिंह दरबार तथा अमृत वेला ट्रस्ट के सेवाधारियों को भोजन वितरित करने के लिए पास दिया गया है।निर्देशानुसार सोसल डिस्टेंस बनाकर ही लोगो तक भोजन खाद्य पदार्थ उन तक पहुचाया जाए। वही बता दे कि अकेले थायरा सिंह दरबार के द्वारा हर दिन 10 से 12 हजार लोगों को खाना खिलाया जा रहा है !      
      बता दे कि   यह भी देखा जा रहा है कि, इनकी मदद करने हेतु हररोज़ नई नई संस्था, नये नये लोग बगैर परमिशन के धोकादायक तरीक़े कुछ न कुछ मदद सामग्री बांट रहे है, पुण्यकर्म होने के साथ इन लोगों के पास कोरोना प्रादुर्भाव से बचाव का कोई साधन नहीं होता, लेने और देने वालों में सोशल डिस्टन्स का पालन भी नहीं किया जाता है जिससे लोगों में इस बीमारी का प्रादुर्भाव बढ़ सकता है।इन्ही समस्याओं को ध्यान मे रखते हुये उमपा प्रशासन द्वारा प्रभाग क्रमांक 1 से 4 के स्कुलो और सार्वजनिक इमारतों को बेघर लोगो के लिए निवास और भोजनालय के लिए उपलब्ध करवाया जा रहा है। ऐसी जानकारी आयुक्त देशमुख द्वारा निकाले गए परिपत्रक नुसार 

    1) प्रभाग समिति क्रमांक 1 में भोलेनाथ टॉवर के सामने स्कुल नम्बर 27 गोलमैदान के पास, 

    2) प्रभाग समिती क्रमांक 2, जवाहर होटल स्कुल नंबर 29, फॉलोवर लेन चौक,

     3) प्रभाग समिती क्रमांक 3 संतु बिल्डिंग सेक्शन 22 उल्हास स्टेशन रोड स्कुल नम्बर 7 में धन गुरू नानक डेरा सन्त थाहरिया सिंग दरबार द्वारा भोजन आबंटित किया जाना निर्धारित किया गया है।

     4) प्रभाग समिती क्रमांक 4, दसरा मैदान, फिश मार्केट स्कुल नम्बर 28 और मठमन्दिर स्कुल नम्बर 19 में अमृतवेला ट्रस्ट द्वारा बेघर,

     विस्थापित और दुसरे राज्यो के रहिवासी फसे हुये कामगारों के लिये निवास, अनाज और भोजन की व्यवस्था उमपा द्वारा की गई है। साथ ही,जिन व्यक्तियों या संस्थाओं को सहायतार्थ गेहूं, चावल दाल या अनाज देना हैं वे 20,25,30 और 50 किलो की पैकिंग में उमपा के चारों प्रभाग समिती कार्यालय में जमा कर सकते है, ये सब कार्य करते समय प्रशासन द्वारा बने कानुन और सोशल डिस्टन्स का पालन करते हुये किये जाने का अनुरोध भी उमपा आयुक्त ने जारी परिपत्रक में किया है। उल्हासनगर एक ऐसा दरबार है जो शहर में कभी भी आपदा आती है तो आम जनता के लिए खड़ी रहती है वह थायरा सिंह दरबार जब बारिश के समय बाढ़ आई तब भी लोगो के खाने पीने के यहाँ पर दिन रात लंगर चालू आज जब करोना महामारी से देश लड़ रहा ऐसे समय मे भी यह दरबार सेवा देने सबसे आगे है !
  • No Comment to " लॉक डाउन में गरीबो के दो वक्त खाने का सहारा बने थायरा सिंह दरबार व अमृतवेला ट्रस्ट ! "