• पुलिस की मदद के लिए आगे आई मिलिट्री स्कूल की छात्रा सिमरन !

    Reporter: first headlines india
    Published:
    A- A+
    पुलिस की मदद के लिए आगे आई मिलिट्री स्कूल की छात्रा सिमरन ! 

    जब देश पर कोई विपत्ति आती है हमें आगे आना चाहिए यही शिक्षा मिलता है आर्मी स्कूल में ! 

    पुलिस के मना करने के बाद लोग लॉक डाउन के नियमो की अनदेखी कर रहे थे ! 

    एक सैनिक जो छुट्टी पर है, जब उसके देश पर किसी दुश्मन का हमला होता है, वह कभी घर पर नहीं रहता -सिमरन 

    इस पूरे मामले सिमरन ने क्या कहा सुनिये उनकी जुबानी,,,, 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर में लॉक डाउन के बाद पुलिस को बिना वजह घूमने वाले बाइकर्स लोगों को रोकने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है। सतारा मिलिट्री स्कूल की छात्रा ने इस संबंध में पुलिस की मदद करने के लिए दौड़ लगाया। एक सैनिक जो छुट्टी पर है, जब उसके देश पर किसी दुश्मन का हमला होता है, वह कभी घर पर नहीं रहता है, इसे हमेशा हिंदी फिल्म में दिखाया जाता है। ऐसा ही कुछ उल्हासनगर कैंप 2 के नेहरू चौक पर हो रहा है। उस समय, सैन्य वेश में एक युवा लड़की पुलिस को वाहन की जांच में सहायता करती हुई दिखाई देती है। इसके कारण, उल्हासनगर शहर में सेना तैनात करने की खबर की जोरदार चर्चा हो रही है। मैं इसका पता लगाने के लिए नेहरू चौक गया। उस सैन्य पोशाक में युवा लड़की से बात किया तो, उसने कहा कि उसका नाम सिमरन राजकुमार मनसुखानी था। वह सतारा मिलिट्री स्कूल में एक छात्रा थी। यह पूछे जाने पर कि आप यहां क्या कर रही हैं, उसने कहा कि महाराष्ट्र पुलिस के पास महिला पुलिस पर्याप्त संख्या में नहीं है। नेहरू चौक पर तैनात तीन पुलिस कर्मी तनाव में थे। यह देखकर मुझसे रहा नहीं गया इसलिए मैं पुलिस के पास मदद के लिए आ गई।" हालांकि यह ज्ञात है कि कोरोना वायरस देश में प्रवेश कर चुका है,फिर भी वाहनों पर लोग इधर-उधर घूम रहे हैं, इन्ही लोगों को नियंत्रित करने में पुलिस की मैं सहायता कर रही हूं,ऐसा सिमरन ने कहा।
  • No Comment to " पुलिस की मदद के लिए आगे आई मिलिट्री स्कूल की छात्रा सिमरन ! "