• यूज मास्क धोकर और प्रेस करने के बाद वापस बाजार में बेचने वाले रैकेट का हुआ भंडाफोड !

    Reporter: first headlines india
    Published:
    A- A+
    यूज मास्क धोकर और प्रेस करने के बाद वापस बाजार में बेचने वाले रैकेट का हुआ भंडाफोड ! 

    इस रैकेट के जरिए यूज किए पीपीई, मास्क, ग्लव्स और हैंड सैनिटाइजर बेचते करते है धंधा ! 

     पुलिस ने एन-95 सर्जिकल मास्क को किया बरामद , 50 लाख रुपये के है यह मास्क ! 

     इस मामले में तीन लोगों को भिवंडी और विरार से किया गया गिरफ्तार ! 

    पुलिस ने दिल्ली, हैदराबाद और राजस्थान पुलिस को किया अलर्ट ! 

    आम जनता अपने बनाये मास्क व घरेलू कपड़े के मास्क करे यूज ! 

     पालघर - पालघर में पुलिस ने यूज किए हुए मास्क फिर से बेचे जाने के रैकिट का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने एन-95 सर्जिकल मास्ट भारी मात्रा में बरामद किए हैं, जिनकी कीमत 50 लाख रुपये बताई जा रही है। ये मास्क विरार के स्लम में स्टोर किए गए थे। पुलिस का मानना है कि यह बहुत बड़ा रैकिट हो सकता है इसलिए दूसरे राज्यों की पुलिस से संपर्क किया गया है।
    एसपी पालघर गौरव सिंह ने बताया कि इस मामले में तीन लोगों को भिवंडी और विरार से गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि तीनों आरोपियों के नाम अभी सार्वजनिक नहीं किए जा रहे हैं क्योंकि यह बहुत बड़ा गैंग हो सकता है। एसपी ने बताया कि पुलिस ने दिल्ली, हैदराबाद और राजस्थान पुलिस से संपर्क किया है, जहां इस गैंग के अन्य लोग शामिल हैं। एसपी ने बताया कि तीनों के खिलाफ आईपीसी की विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया गया है। वसई के असिस्टेंट पुलिस इंस्पेक्टर सिद्धवा जयबजय ने बताया कि इस रैकिट की जानकारी उन्हें खुफिया सूत्रों से मिली थी। पता चला था कि इस रैकिट के लोग प्रयोग किए हुए पीपीई उपकरण जैसे मास्क, ग्लव्स और हैंड सैनिटाइजर बेचते हैं। पुलिस ने बताया कि देर रात की गई छापेमारी में विरार के स्लम से 25000 एन95 प्रयोग किए हुए मास्क बरामद किए गए। दो लोगों को मौके से गिरफ्तार किया गया। दोनों की निशानदेही पर पुलिस ने तीसरे शख्स को भिवंडी से पकड़ा। पूछताछ में पता चला कि मास्क की यह खेप नई दिल्ली से सड़क मार्ग से लाई गई थी। यात्रा के दौरान उनके पास पीपीई और मास्क सप्लाई करने की अनुमति थी। छानबीन में सामने आया कि नई दिल्ली में एक ग्रुप ने प्रयोग किए हुए मास्क एकत्र किया था। वहां से यह भिवंडी भेजा गया। भिवंडी में मशीनों में ये मास्क धुले जाने थे और प्रेस करने के बाद उन्हें भेजा जाना था। मास्क की यह खेप हैदराबाद, नई दिल्ली और राजस्थान में सप्लाई होनी थी।
  • No Comment to " यूज मास्क धोकर और प्रेस करने के बाद वापस बाजार में बेचने वाले रैकेट का हुआ भंडाफोड ! "