• शराब पीने वालों के मंशुबो पर आयुक्त फेरा पानी, अप्रवासी मजदूरों दी बड़ी राहत !

    Reporter: first headlines india
    Published:
    A- A+
    शराब पीने वालों के मंशुबो पर आयुक्त फेरा पानी, अप्रवासी मजदूरों दी बड़ी राहत ! 

     इलेक्ट्रिक दुकान सीलिंग फैन की होगी होम डिलेवरी ! 

     अप्रवासी मजदूरों को मेडिकल के लिए प्राइवेट डॉक्टर के सर्टिफिकेट भी चलेगा ! 

    मनपा व पुलिस के आला अधिकारी की मीटिंग क्या लिया गया फैसला !

     कालाबाजारी करने दुकानदारो वालो को मनपा के चंद भष्ट्र लोग दे रहे संरक्षण ? 

    सुनिए पूरे मामले की जानकारी उमपा आयुक्त सुधाकर देशमुख की जुबानी,,,,,,,,,, 

     उल्हासनगर- उल्हासनगर शहर में सोमवार को एक अदभुत नजारा सामने आया लग रहा था लाॅकडाऊन के समाप्ति हो चुका है क्योकि शराब की दुकानों को खोले जाने की खुशी में सुबह 6 बजे से वाईन शाॅप की दुकानों के बाहर ग्राहकों की भारी भीड़ देखी गई लेकिन शराब प्रेमियों के मंशुबो पर पानी फेरते हुए उल्हासनगर महानगरपालिका के आयुक्त सुधाकर देशमुख ने सोमवार शाम को आदेश जारी किया है कि उल्हासनगर कन्टेमेंट झोन में आता है इसलिए शहर में शराब की दुकानों को खोलने की अनुमति नहीं दी गई है। उन्होंने अपने आदेश में गर्मी को देखते हुए सीलिंग फैन के व्यापारियों को राहत दी है और उन्हें होम डिलेवरी की छूट दी है। वहीं परप्रांतियों की सुविधा के लिए हर प्रभाग में 5 झेराॅक्स के दुकान खोलने की अनुमति भी दी है। वहीं देर शाम को ठाणे जिला के पालक मंत्री एकनाथ शिंदे ने भी ठाणे जिले में शराब की दुकानों को लाॅकडाऊन की समाप्ति तक नहीं खोलने का आदेश जारी किया है। इससे अब जिले के सभी शहरों में वाईन शाॅप बंद ही रहेंगे। 
    गौरतलब हो कि उल्हासनगर शहर में 45 दिनों से कारोबार ठप्प है मेडिकल, किराणा, दूध, सब्जी की दुकानों को लोगों की सुविधा के लिए खोला जा रहा है लेकिन अत्यावश्यक सेवा किराना दुकानों की आड़ में कई खान-पान की अन्य दुकानें बिना अनुमति के खुली पायी जा रही है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अमन टाॅकीज रोड की प्लाॅसि्टक की कई दुकानें हाॅफ शटर खोलकर धंधा कर रही है वहीं विट्ठलवाड़ी रेलवे स्टेशन के पास कनफेक्शनरी का मार्केट भी सुबह 5 से 8 बजे तक खोला जा रहा है। यह दोनों मार्केट मनपा की बिना अनुमति के खुल रही हैं। साथ ही कैम्प 5 दूध नाका परिसर में भी प्लाॅस्टिक व्यापारी पीछे के दरवाजे से धंधा कर रहे हैं। यह व्यापारी कालाबाजारी करते हुए दो से तीन गुना भाव में धंधा कर रहे हैं। इन मार्केटों में बाहर से आए लोगों को सामान दिया जा रहा है। पता चला है कि कई व्यापारी मिलकर मनपा अधिकारियों को पैसे देकर गैरकानूनी रूप से दुकानें खोल रहे हैं। इसी के साथ किराणा दुकानों की आड़ में शहर में खान-पान की भी कई दुकानें बिना अनुमति के लिए खोल रहे हैं जिसमें जनरल स्टोर, शरबत आदि दुकानों का समावेश है। शहर के व्यापारियों का कहना है कि अगर इस तरह चोरी छिपे अथवा पीछे के रास्ते दुकानें खोली जा रही है पर कार्यवाई करके इन्हें तुरंत मनपा आयुक्त को बंद करना चाहिए , क्योकि कालाबाजारी के चक्कर में कोरोना महामारी को फैलाने का धंधा न शुरू हो जाय,मनपा आयुक्त ने अपने दिए आदेश में एक अप्रवासी मजदूरों बड़ी राहत देने वाली जानकारी भी शेयर किया मेडिकल के लिए किसी भी प्राइवेट का सर्टिफिकेट वैलिड माना जायेगा इससे सरकारी अस्पतालों पर लगी लम्बी लाइन कम होगी और अप्रवासी मजदूरों की समस्या का अंत होगा और वो अपने गांव जा सकेंगे !
  • No Comment to " शराब पीने वालों के मंशुबो पर आयुक्त फेरा पानी, अप्रवासी मजदूरों दी बड़ी राहत ! "