• देश का पहला कोविड-19 केयर आश्रम बना मुंबई में ! दूसरी खबर में देखिये भारत समेत विश्व में कैसा दिखा सूर्य ग्रहण !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    देश का पहला कोविड-19 केयर आश्रम बना मुंबई में ! 

     कोविड केयर आश्रम में योग, ध्यान, सनबाथ, प्रवचन और भगवान की प्रार्थना से होगा इलाज !

     2 एकड़ की जमीन पर बनाया गया कोविड केयर आश्रम ! 

     आश्रम में कोरोना से ग्रसित 50 वर्ष से कम आयु के मरीजों का ही होगा इलाज ! 

     जिन मरीजों में रोग के लक्षण नजर नहीं आ रहे हैं, ऐसे मरीजों को आश्रम में दिया जाएगा प्रवेश ! 

     विडियो और ऑनलाइन पद्धति से मरीजों से आध्यात्मिक पर होगी चर्चा ! 


    देखिये वीडियो खबर में भारत समेत पूरे विश्व में कैसे दिखा सूर्य ग्रहण,,,,

    मुंबई-मुंबई में कोरोना के बढ़ते मामलों की बीच अब मरीजों का इलाज योग, ध्यान और आध्यात्मिक तरीके से भी किए जाने की तैयारी है। दवा के साथ ही योग के माध्यम से रोग से निजात दिलाने के लिए मुंबई में देश का पहला कोविड केयर आश्रम तैयार किया गया है। करीब 70 बेड वाले आश्रम का निर्माण मुंबई पोर्ट ट्रस्ट द्वारा किया गया है। मुंबई पोर्ट ट्रस्ट के अस्पताल के करीब दो एकड़ परिसर में आश्रम तैयार किया गया है। आश्रम में योग, ध्यान, सूर्य की किरण (सन बाथ), सैर, प्रवचन, ईश्वर की वंदना समेत अन्य तरीके से मरीजों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का प्रयास किया जाएगा। मुंबई पोर्ट ट्रस्ट के अध्यक्ष संजय भाटिया के अनुसार, कोरोना मरीजों के लिए बने देश के पहले आश्रम में कोरोना से ग्रसित 50 वर्ष से कम आयु के मरीजों का उपचार किया जाएगा। जिन मरीजों में रोग के लक्षण नजर नहीं आ रहे हैं, ऐसे मरीजों को आश्रम में प्रवेश दिया जाएगा। प्रवेश से पहले दो दिन अस्पताल में रख मरीज की सभी आवश्यक जांचें की जाएंगी।पीड़ितों को रोग मुक्त करने के लिए आश्रम द्वारा मरीजों की पूरी दिनचर्या निर्धारित की गई है। इसके तहत मरीजों से रोजाना 1 घंटा योग, 90 मिनट ध्यान और करीब 30 मिनट तक उनसे आध्यात्मिक चर्चा की जाएगी। आश्रम में दिन की शुरुआत सुबह 6 बजे चाय के साथ होगी और रात करीब 9 बजे प्रेयर के साथ उनका दिन खत्म होगा।सुबह 6.30 से 7.30 बजे तक मरीजों को योग करवाया जाएगा। 7.30 से 8.30 तक उनको भाप और कुल्ला करवाया जाएगा। 11 से 11.30 तक आध्यात्मिक चर्चा उसके बाद 45 मिनट तक मरीजों से ध्यान करवाया जाएगा। दोपहर में डेढ़ घंटा आराम करने के बाद शाम 4.30 बजे से 5.15 तक ध्यान करवाया जाएगा। पीड़ितों की सेहत में कैसे सुधार हो रहा है, इसका पता लगाने के लिए दिन में दो बार उनका मेडिकल चेकअप भी किया जाएगा।मरीजों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए आश्रम का निर्माण किया गया है। सभी कमरों और पूरे परिसर में सूरज की रोशनी पहुंच सके इसका विशेष ध्यान रखा गया है। प्रत्येक मरीज के लिए बेड, चेयर और अलग से पंखों की व्यवस्था की गई है। योग के लिए विशेष हॉल तैयार किया गया है। विडियो और तकनीक की सहायता से मरीजों को योग सीखने की व्यवस्था की गई है। विडियो और ऑनलाइन पद्धति से मरीजों से आध्यात्मिक चर्चा की जाएगी।संजय भाटिया के अनुसार, कोरोना मरीजों की वजह से अस्पतालों पर लगातार बढ़ते बोझ को कम करने के लिए आश्रम तैयार किया गया है। योग, ध्यान, सैर, भाप, काढ़ा का सेवन समेत अन्य तरीकों से मरीजों की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने का प्रयास यहां किया जाएगा। वहीं आश्रम में मरीजों को अपने कपड़े पहनने की अनुमति होगी। साथ ही वह अपने साथ कुछ दवा भी रख सकते हैं।
  • No Comment to " देश का पहला कोविड-19 केयर आश्रम बना मुंबई में ! दूसरी खबर में देखिये भारत समेत विश्व में कैसा दिखा सूर्य ग्रहण ! "