• उल्हासनगर में रुपये के लेनदेन या ब्लैकमेलिंग को लेकर दोस्त ने किया अपने दोस्त की हत्या ?

    Reporter: first headlines india
    Published:
    A- A+

     उल्हासनगर में रुपये के लेनदेन को लेकर दोस्त ने किया अपने दोस्त की हत्या !


     हत्या करने के बाद दोस्त हत्यारे आरोपी ने पुलिस के समक्ष किया आत्मसमर्पण !

    हत्या के पीछे की सही वजह की तलाश में जुटी पुलिस !

    देखिये पूरी खबर को कहा पर मिली थी डेडबॉडी क्या था कार का नंबर,,,,



    उल्हासनगर-उल्हासनगर में पिछले कुछ महीनों से हत्या का प्रयास और हत्या, लूटपाट, डकैती,चोरी की वारदातों को अंजाम देने वाले अपराधियो को पुलिस प्रसासन का डर खत्म हो चुका नतीजतन जघन्य अपराध का कृत्य करने वाले बेधड़क अपराधिक वारदातों को अंजाम दे रहे है.तीन दिन पूर्व लापता हुए युवक का मृत शरीर कैम्प-5 की हद में मिला यही नही हत्या करने वाला हत्यारा दीपक गोकलानी ने हिल लाइन पुलिस के समक्ष आत्म समर्पण कर हत्या का जुर्म भी कबूल कर लिया है.
               इस विषय मे मिली जानकारी के अनुसार कैम्प-5 के रहिवासी पवन अच्छरा का दीपक गोकलानी नामक युवक से दोस्ती थी.बताया जाता है कि दीपक का कैम्प-5 में ही यश बुटीक नामक कपड़े की दुकान है.दोनों के बीच अच्छा रिलेशन किस तरह का और कैसा था.इस बात की जानकारी पुलिस कर रही है.प्राथमिक जानकारी में यह भी सामने आया कि दोनों युवकों के बीच पैसों का लेनदेन के अलावा शारीरिक संबंधों का रिलेशन भी था.
              सूत्रों की माने तो पवन अच्छरा रिलेशन रखने के बाद दीपक गोकलानी को आपस मे संबंधों को नियमित रखने के लिए ब्लैक भी करना शुरू कर दिया था.इसी बात से नाराज दीपक ने 16 तारीख को पवन को बुलाया और उसकी हत्या कर लाश को अपने कार की डिग्गी में छुपा दिया था.इधर 16 तारीख को देर रात जब पवन घर वापस नही लौटा तो उसके परिजनों ने हिल लाइन पुलिस स्टेशन जाकर शिकायत दर्ज करवाई.पुलिस ने मिसिंग का मामला दर्ज कर पवन की तलाश में जुट गई थी.
             आज सुबह अचानक नेताजी चौक स्थित तलवारकर जीम,कचरा कुंडी के पास पवन का मृत देह पाया गया.सड़क से गुजर रहे लोगो ने इसकी सूचना तत्काल पुलिस को दी पुलिस ने पवन अच्छरा का मृत देह पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया.इसी बीच दीपक गोकलानी ने भी हत्या का जुर्म स्वीकार कर पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया.मामले की जांच हिल लाइन पुलिस कर रही है.



    Subjects:

  • No Comment to " उल्हासनगर में रुपये के लेनदेन या ब्लैकमेलिंग को लेकर दोस्त ने किया अपने दोस्त की हत्या ? "